जी हां कभी-कभी यह बहुत जरूरी हो जाता है उन लोगों के लिए जो किसी अनजान व्यक्ति के साथ विवाह के बंधन में बंधने जा रहे हैं। भारतीय समाज में ही नहीं बल्कि हर जगह है एक लड़की की शादी होने के पश्चात उसे पिया के घर जाना पड़ता है।

कभी-कभी इसके बारे में सोचते सोचते एक उम्र निकल जाती है कि मेरे जीवन साथी के घर का माहौल कैसा होगा।

आइए ज्योतिष की मदद से जानते हैं कि आपके जीवन साथी का घरेलू वातावरण कैसा होगा:-

आपकी कुंडली के नवमांश का दूसरा घर या फिर जन्म कुंडली के आठवें घर के स्वामी की नवमांश में स्थिति बताती है आप की ससुराल कैसी होगी।

ऐसे ग्रह का पता लगाएं जो  के दूसरे घर में बैठा हो या फिर जन्म लग्न के आठवें घर के स्वामी की ग्रह स्थिति कैसी है मित्र राशि में है या शत्रु राशि में नीच का है या फिर उच्च राशि का।

यदि ऐसा ग्रह सूर्य हो तो निसंदेह आप की शादी किसी बड़े घर में होने जा रही है जहां किसी एक व्यक्ति का राज चलता है और बाकी लोग उसी के इर्द-गिर्द घूमते हैं जैसे सूर्य के इर्द-गिर्द सभी ग्रह घूमते हैं।

यदि ऐसा ग्रह चंद्रमा हो तो आपकी शादी बड़े परिवार में होने जा रही है।

यदि ऐसा ग्रह मंगल हो तो आपके घर में शांति रहना मुश्किल है परंतु यदि मंगल अच्छी स्थिति में हो तो आपका ऐसे ही घर में रहना सहज हो सकता है।

यदि ऐसा ग्रह है बुध हो तो बिजनेस फैमिली में आपकी शादी होने जा रही है जहां पर लोग अपना पूरा ध्यान कामकाज और बिजनेस पर रखेंगे।

यदि ऐसा ग्रह वृहस्पति हो तो आपकी शादी आप से ऊंचे कुल में होने जा रही है।

यदि ऐसा ग्रह शुक्र हो तो मॉडर्न फैमिली आधुनिक विचारों को मानने वाले लोग आपको अपनी ससुराल में मिलेंगे।

यदि ऐसा ग्रह राहु हो तो मान कर चलिए कि आपकी शादी ऐसे घर में होने जा रही है जहां का माहौल आप के वर्तमान घर के अनुसार नहीं होगा हो सकता है गरीब परिवार हो या आर्थिक संकट से जूझता परिवार हो।यदि ऐसा नहीं है तो पढ़े लिखे लोगों की कमी होगी।

राहु और केतु से इतना जाने की जो कुछ शादी से पहले आपको दिखाई देगा वह सब एक दिखावा होगा सच्चाई कुछ और होगी जो आपको शादी के पश्चात पता चलेगी।

Free Marriage Prediction - Get Answer within 24 hour

 

Verification

जैसा कि मैंने शुरू में कहा कि कभी-कभी यह जानना बहुत जरूरी हो जाता है कारण यह है कि यदि आपको पता होगा आप की ससुराल अच्छी नहीं है तो उसके अनुसार आप तैयारी कर सकते हैं।

पूना की हमारी एक क्लाइंट की शादी से पहले आप ने उसे बताया कि आपकी शादी गरीब परिवार में होगी तो सुमन ने अपनी वर्तमान प्राइवेट नौकरी को ना छोड़ने का फैसला किया और शादी के पश्चात हमारी बात सही निकली। यदि सुमन ने नौकरी छोड़ दी होती तो बड़ी मुसीबत में फंस सकती थी आज बेशक सुमन की शादी बड़े घर में नहीं हुई परंतु वह अपनी ससुराल में अपने दायित्व बखूबी निभा रही है।

ऐसे अनेक उदाहरण हम आपको दे सकते हैं जिसके आधार पर हमारा आज का आर्टिकल लिखा गया है उम्मीद है इससे पाठकों को कुछ नया सीखने को मिलेगा