दोस्तों इस दुनिया में हर कोई किसी ना किसी चीज के पीछे भाग रहा है कोई भी ऐसा नहीं है जो माया रूपी इस संसार में किसी स्वार्थ के पीछे नहीं है आज का हमारा टॉपिक इसी बारे में है।

12 राशियों के लोग किसी न किसी वजह से पैनिक हो जाते हैं और किसी ना किसी बात को लेकर सीरियस रहते हैं यहां हम बात कर रहे हैं कि 12 राशियों के लोग किस के पीछे भागते हैं आइए शुरू करते हैं मेष राशि से

मेष राशि के लोग और पोजीशन

मंगल स्वामी है इस राशि का उग्र स्वभाव है आगे रहने की आदत है इस राशि वालों को प्रतिस्पर्धा में टॉप पर रहना है परंतु है सेनापति इसलिए इनकी स्थिति भी ऐसी ही रहती है यह टॉप की स्थिति के पीछे भागते हैं और जीवन भर भागते ही रहते हैं कुछेक लोग जो लकी होते हैं उन्हें सफलता मिल भी जाती है परंतु सबको नहीं तो मेष राशि के लोग पोजीशन के पीछे भागते हैं

वृषभ राशि के लोग किस चीज के लिए व्यग्र रहते हैं

वृषभ राशि की सुन लीजिए इस राशि के लोग जिस का प्रतीक एक बैल है आपने बैल देखा होगा कितना शांत होता है उसका स्वभाव बल होते हुए भी ताकत होते हुए भी शांत रहता है ऐसे ही यह लोग होते हैं क्योंकि शक्ति संपन्न होने के बावजूद यह शक्ति का दिखावा नहीं करते ना ही प्रयोग करते हैं क्षमा में यकीन रखते हैं इन्हें ना तारीफ से मतलब है और ना ही फिजूल की चापलूसी से परंतु इनका परिवार इनके लिए सब कुछ है तो यह अपने परिवार के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते हैं इसलिए वृषभ राशि के लोग अपने परिवार के पीछे भागते हैं

मिथुन राशि के लोग किस चीज के पीछे भागते हैं

मिथुन राशि के लोग काफी चतुर होते हैं। वे अपनी बात मनवाना भी जानते हैं और इन्हें यह भी पता होता है कि कौन सा काम कैसे होगा। इसलिए इनके आगे पीछे एक भीड़ सी रहती है। इसीलिए जब वे  लोकप्रिय हो जाते हैं तो इन्हें यह गुमान हो जाता है कि जब मैं इतना प्रतिभा संपन्न हूं जब मेरे पास इतनी चुंबकीय ऊर्जा है जो दूसरों को बात मानने पर मजबूर कर देती है तो क्यों ना इस ऊर्जा का प्रयोग पैसा कमाने के लिए किया जाए। ये लोग इस बात में यकीन रखते हैं कि माना पैसा खुदा नहीं पर खुदा की कसम खुदा से कम भी नहीं।

वे जिंदगी भर कुछ ऐसा करने के अवसर की तलाश में रहते हैं जिससे आसानी से पैसा कमाया जा सके और ढेर सारा पैसा कमाया जा सके।

कर्क राशि के लोग

कर्क राशि के लोग दिमाग के भी तेज होते हैं और शारीरिक तौर पर भी इनके हाव-भाव ऐसे होते हैं कि यह सब कुछ जल्दी जल्दी कर लेना चाहते हैं जो करना है अभी करना है इसी समय करना है क्योंकि उन्हें पता है कि इनके दिमाग में हर रोज कितने आईडिया आते हैं यदि आइडिया को इंप्लीमेंट नहीं करेंगे तो भूल जाएंगे तो यह अकेलेपन से डरते हैं और किसी का साथ चाहते हैं इन्हें लगता है कि प्रेम नहीं तो संसार में इंसान पशु समान है और यह प्रेम के पीछे पागल पंछी की तरह भागते रहते हैं और अकेलेपन में तो यह निराशा के अंधकार में खो जाते हैं यानी डिप्रेशन में चले जाते हैं

सिंह राशि के लोगों की राजगद्दी के लिए लालसा

सिंह राशि के लोगों में राजसी गुण होते हैं। परंतु राहु शनि और केतु की मौजूदगी में इन्हें कोई ना कोई ऐसा मिल ही जाता है जो इन्हें मात देने की क्षमता रखता है। जब इन्हें यह खतरा महसूस होता है कि इनका राजपाट चला जाएगा तो यह अपनी शक्ति को एकत्रित करने में, अपनी शक्ति को नियंत्रित करने में लग जाते हैं और निरंतर यही करते रहते हैं। जरा सा लगता है की शक्ति कम हो गई है तो इन्हें असुरक्षा की भावना होने लगती है इसलिए यह अप्रोच के पीछे भागते हैं

कन्या राशि के लोग अपने रूप को मेंटेन रखते हैं

कन्या राशि के लोग परिस्थितियों से भाग नहीं सकते क्योंकि यह जो भी करते हैं सब्र संतोष के साथ करते हैं। परंतु ये लोग भी 12 राशियों से अलग नहीं है इन्हें भी किसी ना किसी की तलाश रहती है।  इसलिए भागना तो नहीं कहेंगे परंतु पैसा इकट्ठा करना और इन्वेस्ट करते जाते हैं। क्योंकि ये सबसे अलग दिखते हैं इसलिए अपने रूप को बनाए रखने के लिए पैसे का पास होना महत्वपूर्ण मानते हैं। चाहे सस्ता ही क्यों न हो परंतु यह जो भी करते हैं वह महंगा ही दिखता है,

ये अपने रूप के पीछे भागते हैं ताकि दुनिया इनके पीछे भागे

तुला राशि के लोग

तुला राशि के लोगों को पता होता है कि वर्तमान में किस के साथ क्या हो रहा है। इन्हें लोगों की कमजोरियां बड़ी आसानी से दिख जाती है इसलिए जब भी इन्हें मौका मिलता है तो लोगों की मुश्किल दूर कर देते हैं। ये लोकप्रिय होना चाहते है और लोकप्रिय भी ऐसा जिसकी बात सब लोग माने, जिसका निर्णय अंतिम हो, यही इनका सपना होता है। इसी के पीछे भागते हैं तुला राशि के लोग।

वृश्चिक राशि के लोग यश के पीछे भागते हैं

अब आइए जानते हैं कि वृश्चिक राशि के लोग शक्ति संपन्न होते हैं। इन्हें जो कार्य सौप दिया जाता है उस पर यह पूरी शक्ति लगा देते हैं। इसलिए इन्हें थोड़ा घमंड भी हो जाता है क्योंकि इन्हें लगता है कि यदि ये अपनी पूरी शक्ति लगाएं तो कोई इन्हें हरा नहीं सकता। अब आप सोचेंगे कि यह तो सिंह राशि से मिलता-जुलता हुआ तो मैं कहूंगा कि फर्क सिर्फ इतना है की सिंह राशि के लोग पैसे से भी उतना ही प्यार करते हैं जितना अपने राजपाट से, अपने यश से, अपने सम्मान से, जबकि वृश्चिक राशि के लोग लालच में नहीं आते, प्यार मिल जाए तो पैसे को त्याग देते हैं। सम्मान मिल जाए, यानी सामने वाला हार मान ले, तो क्षमा कर देते हैं।

धनु राशि के लोगो की ख़ास जरूरत

आइए अब बात करते हैं धनु राशि की। यदि आप गौर से धनु राशि के चिन्ह को देखेंगे तो पाएंगे एक घोड़े के रूप में एक मनुष्य धनुष बाण लिए दिखाई देगा। जितना यह भागते हैं उतना और कोई नहींभाग नहीं सकता। ये लोग तो सपनों से भी कुछ ना कुछ ग्रहण कर लेते हैं और उसे निवेश कर देते हैं।  यह परिश्रम और सफलता के पीछे भागते हैं और उसके लिए बल और पराक्रम शक्ति सब कुछ प्रयोग में लाते हैं। शक्ति इनके पास बेशुमार रहती है। धनु राशि के लोग राजसी तत्व के कारण लोगों के दिलों पर राज करना चाहते हैं। ये एक नेक ईमानदार और दानी राजा की पोजीशन के पीछे भागते हैं।

मकर राशि के लोग

मकर राशि के लोग शनि के स्वामित्व वाली राशि होने के कारण सेवा भाव में विश्वास रखते हैं। बदले में थोड़ी सी प्रशंसा मिल जाए तो कहना ही क्या। बड़े अफसरों से लेकर साधु सन्यासी, गरीब-अमीर इनके लिए सब समान हैं। यह उन सभी से सम्मान चाहते हैं और इसीचीज़ के पीछे यह भागते हैं। फिर चाहे इन्हें किसी की कितनी भी सेवा क्यों न करनी पड़े।

कुंभ राशि के लोग कुल में सम्मान के पीछे भागते हैं

कुंभ राशि के लोगों की राशि का स्वामी भी शनि ही होता है परंतु नक्षत्र के बदल जाने के कारण ये मकर राशि वालों से पूरी तरह से अलगहोते हैं। इन्हें ठाटबाट से जीना पसंद है, रुपए पैसे का दिखावा बेशक यह करते हो परंतु कंजूस नहीं होते। यदि यह किसी पर मेहरबान हो तो बड़े से बड़ा दान करने से भी पीछे नहीं हटते। यह पैसों के पीछे नहीं भागते परंतु थोड़ा पैसा थोड़ा सम्मान थोड़ा दिखावा इन सबको मिलाकर जो सामग्री बनती है उसके पीछे यह भागते हैं ताकि अपने परिवार में यह दूर-दूर तक काबिल दिखाई दे।

मीन राशि के लोगों का प्रकृति प्रेम

मीन राशि के लोग उस हिरण की तरह होते हैं जिसके पास कस्तूरी है परंतु उसे पता ही नहीं कि सुगंध कहां से आ रही है। ऐसा ही इनके साथ होता है। मछली की तरह इस राशि की आकृति है। इनको अधिक इंटरेस्ट नहीं होता दिखावो में, इनकी जरूरतें भी बहुत कम होती है इसलिए पैसे का तो सवाल ही नहीं। इसलिए इनके पास जो कला होती है उसके लिए यह धन को ठुकरा सकते हैं। क्योंकि इन्हें पता है कि इनकी कितनी मेहनत लगी है। ये प्रकृति से प्रेम करते हैं और अकेले रहना चाहते हैं। इसलिए ऐसी जिंदगी के पीछे भागते हैं जहां इनके और प्रकृति के बीच कोई और ना हो।